जानिए क्या करिश्मा हुआ जब बेटे की चाह में औरत ने दिया चौथें बच्चे को जन्म


बच्चे की चाह ये वो चाह होती है जो हर औरत में होती है हर स्त्री ये सुख लेना पसंद करती है कई बार तो जो औरत बच्चे को जन्म नही दे पाती उसे बांज कहकर पुकारा जाता है जो कि उस औरत को किसी तीर के समान लगता है उसको ये गाली के समान दुख देता है । अगर हमारे विश्व मे औरत नही होती तो ये जो हम सब कुछ देख रहे है चलते फिरते आदमी और भी बहुत कुछ क्यो की भगवान यानी इश्वर ने औरत को एक ऐसी शक्ति दी है जिससे वो किसी के भी bhi वंशज को आगे भड़ा सकती है अगर शायद ये नही होती तो कोई प्राणि यहां नही होता। फिर भी आजकल लोग लड़के की चाह ज्यादा रखते है जबकि लड़कियों का होना सबसे ज्यादा जरूरी है , बेटे के जन्म पर जहां मिठाइयाँ बाटते है जबकि बेटी के जन्म पर क्लेश का माहौल बना लेते है ऐसा ही मामला सामने आया है एक औरत के 3 बेटियां होने के बावजूद उसने हिम्मत करके बेटे की चाह में रिस्क लिया और फिर क्या हुआ ये जानकर आप डंग रह जाएंगे आइये जानते हैं क्या है पूरा मामला ?
यह मामला हमारे पास मध्यप्रदेश से आया है यहाँ पर एक औरत के पहले से तीन बच्चियां थी फिर भी उसने प्रसव कराया लेकिन भगवान को कुछ औऱ है मंजूर था उसके लगातार 4 बच्चियां हो गयी यानी कूल 7 बच्चे हो गए उन 4 बच्चियों के वजन बहुत कम होने के कारण डॉक्टर ने उन्हें खुद की देख रेख में रखा है बच्चियों का कुल वजन 1200 ग्राम है । ऐसा ही मामला किशोरगढ़ में सामना आया है वहाँ भी एक औरत के 3 बच्चियां एक साथ हो गयी जिनका वजन बहुत कम था जिसके चलते उन बच्चियों को चिकित्सक ने अपनी निग्रहानी में रखा ।

Leave a Reply