मोटापा एक खतरनाक जानलेवा बीमारी : Interesting Facts About Heavy Weight (Fat)

शरीर का जरूरत से ज्यादा वजन बढ़ना या मोटापा कई प्रकार के कैंसर का कारण बन सकता है. अध्ययनों की माने तो अगर शरीर का वजन कम हो तो रजनोवृत्ति के बाद कैंसर जैसी बीमारी का खतरा कम होता है. अध्ययन यह भी कहतें हैं कि यदि कोई महिला अपना मोटापा 5 फीसदी भी कम कर ले तो भी वह भी उस प्रकार के सूजन से बच सकती है जिसका संबंध कैंसर से होता है.




शरीर में सूजन के स्तर का बढ़ना स्तन, एंडोमेट्रियल कैंसर के खतरे का कारण बन सकता है. अध्ययन बताते हैं कि जो महिलाएं मोटापे की शिकार हैं उन्हें कम कैलोरी का आहार लेना चाहिये साथ ही वजन घटानेके लिए व्यायाम भी करने चाहिए ताकि कैसर का खतरा कम हो सके.




अध्ययन के मुताबिक ऐसी महिलाओं को सप्ताह में कम से कम 45 मिनट तक ऐरोबिक व्यायाम करना चाहिये. अध्ययन में यह भी दावा किया गया है कि जो महिलाएं अपने आहार को संतुलित कर लेती हैं और नियमित रूप से व्यायाम भी करती हैं उनमें सूजन जिसे सी-रिएक्टिव प्रोटीन भी कहते हैं का स्तर 42 फीसदी तक गिर जाता है जिससे कैंसर का खतरा भी कम हो जाता है.




वैसे भी वजन घटना अर्थात संतुलित वजन सेहत के फायदेमंद ही इससे कई अन्य बीमारियों जैसे दिल की बीमारी, डायबटीज का खतरा भी कम हो जाता है. इसलिए ध्यान रखें मोटापा सेहत के लिए बहुत बड़ी समस्या उत्पन्न कर सकता है. संतुलित खाएं, अच्छा खाएं, व्यायाम करें और स्वस्थ रहें.

Save

Leave a Reply