शादी के बाद जरूरी है हनीमून जाना. जानिये इसका कारण





शादी के बाद हनीमून जाना जैसे आज कल एक साधारण बात हो गयी है.  आज कल हनीमून के लिए नई जोड़ी दूसरे देशों में भी जाने लगे हैं. शादी के रीती रिवाज़ पुरे करने के बाद नई जोड़ी सबसे पहले यही काम करते हैं. आज हम जानेंगे यह इतना जरूरी क्यों है.

शादी के बाद समाज और घरवालों को देखते हुए तरह-तरह की रस्मों का पालन करना पड़ता है. लेकिन हनीमून में  उन दोनों को रिलेक्स करने के लिए  और एक-दूसरे को ज्यादा से ज्यादा समझने के लिए वक़्त मिलता है.  हनीमून के दौरान दो लोग एक-दूसरे पर भरोसा कायम करते हैं.

इसके अलावा कई ऐसी वजहें वजह भी  हैं जिनसे पता चलता है कि हनीमून पर जाना जरूरी है:
१. शादी के वक़्त अपने पार्टनर को यह भरोसा दिलाना जरूरी है जिन्दगीभर उसका साथ नहीं छोड़ेंगे. जश्न को सेलीब्रेट करने के लिए और अपने पार्टनर के साथ थोड़ा वक़्त बिताने के लिए हनीमून ही सबसे बेहतर उपाय है.

२.  हनीमून के वजह से दोनों के  बीच  में शारीरिक और मानशिक लगाव बढ़ती है और एक दूसरे को बेहतर तरीके से समझ पाएंगे.

३. हनीमून में आप घर परिवार और दोस्तों से दूर रहते हैं और एक ही  शख्स के ऊपर आपका पूरा ध्यान रहता है. और आपको वक़्त भी मिल जाता है  एक-दूसरे की पसंद और नापसंद और दूसरी बातों को जानने के लिए. .

४. शादी के बाद पहली बार  दोनों साथ  कहीं  जाने की यादों को आप हमेशा सहेजकर रखेंगे.

५. शादी की थकावट को दूर करने के लिए  और फ्रेश महसूस करने के लिए  हनीमून पर जाना एक बहुत अच्छा आइडिया है.

Leave a Reply